रफीक जकरिया ने तोड़ा भ्रम कि सरदार मुस्लिम विरोधी थे

December 26, 2013
print this post

patelमुझे यह देखकर प्रसन्नता हुई कि ताजा राजनीतिक इतिहास से संबन्धित मेरे ब्लॉगों से, सामान्य तौर पर कहा जाए तो मीडिया में भी बहस छिड़ी। इस वर्ष मेरे द्वारा लिखे गए देसी रियासतों के एकीकरण से सम्बन्धित ब्लॉगों जिनमें स्वाभाविक रुप से सरदार पटेल तथा वी.पी. मेनन का जिक्र था, से ज्यादा बहस छिड़ी। इनमें से कुछ ने सरदार के पण्डित नेहरु से मतभेदों की ओर सीधा ध्यान आकर्षित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*