Archive for August, 2012

भारत को एक वैश्विक खेल शक्ति बनाने का संकल्प करें

August 21, 2012
No

हाल ही में सम्पन्न हुंए लंदन ओलम्पिक खेलों में भारत के प्रदर्शन से मुझे खुशी भी हुई और दु:ख भी। खुशी इसलिए कि 2012 के ओलम्पिक में हमें प्राप्त 6 पदक – दो रजत और चार कांस्य – अब तक के हमारे इतिहास में सर्वाधिक हैं। यदि कोई चाहे तो इस तथ्य से भी राहत महसूस कर सकता है कि 2008 में बीजिंग ओलम्पिक में प्राप्त पदकों से यह दुगुने हैं। इस उपलब्धि पर मैं भी अन्य भारतीयों की तरह प्रसन्नता महसूस कर रहा हूं। अत: लंदन में इन सभी 6 पदकों – विजय कुमार को शूटिंग में रजत, फ्री स्टाइल कुश्ती में रजत जीतने वाले सुशील कुमार, शूटिंग में गगन नारंग द्वारा कांस्य, महिला बॉक्सिंग में कांस्य जीतने वाली एम सी मेरीकॉम (मणिपुरी मां जो राष्ट्र की प्रशंसा का पात्र इसलिए बनी कि उसने दिखा दिया कि वह स्वर्ण पदक जीतने की क्षमता रखती है), योगेश्वर दत्त द्वारा कुश्ती … Continue reading भारत को एक वैश्विक खेल शक्ति बनाने का संकल्प करें

AddThis Social Bookmark Button

नए राष्ट्रपति से एक अनुरोध

August 19, 2012
No

यूपीए सरकार का कार्यकाल मई 2014 में समाप्त होगा। सोलहवीं लोकसभा का चुनाव उससे पूर्व होना अनिवार्य है।   सन् 1952 में भारत में हुए पहले आम चुनावों का मुझे आज भी स्मरण है। पार्टी के हम प्रचार- कर्ताओं को विधानसभाई चुनावों की ज्यादा चिंता थी बजाय लोकसभाई चुनावों के। उन लोकसभाई चुनावों में जनसंघ तीन सीटों पर विजयी रही, दो पश्चिम बंगाल और एक राजस्थान से। लेकिन आज के संदर्भ में जो महत्वपूर्ण है, वह यह जिस पर मैं जोर देना चाहता हूं कि सन् 1952 में लोकसभा और विधानसभाई चुनाव एक साथ सम्पन्न हुए थे।   यही प्रक्रिया आगामी तीन चुनावों – 1957, 1962 और 1967 में दोहराई गई थी। पांचवां आम चुनाव 1972 में होना था। लेकिन 1971 की शुरूआत में श्रीमती इंदिरा गांधी ने लोकसभा भंग कर दी और पांचवीं लोकसभा का चुनाव मार्च, 1971 में सम्पन्न हुआ। विधानसभाई चुनाव समयानुसार 1972 में हुए। इस प्रकार … Continue reading नए राष्ट्रपति से एक अनुरोध

AddThis Social Bookmark Button

LET’S RESOLVE TO MAKE INDIA A GLOBAL SPORTS POWER

August 19, 2012
No

India’s performance at the just-concluded London Olympics has made me both happy and sad. Happy because our tally of six medals in the 2012 Games has been the best so far — two silver and four bronze. One can, if one wants to, take further comfort from the fact that it is double the number of medals India had won in the 2008 Beijing Olympics. I am as elated as any other proud Indian at this achievement. Hence, my hearty congratulations to all the six medal winners in London — silver in shooting by Vijay Kumar; another silver in freestyle wrestling by Sushil Kumar; bronze in shooting by Gagan Narang; bronze in women’s boxing by MC Mary kom (the Manipurian mother who became the cynosure of the nation’s admiration by showing she is capable of winning even the gold); bronze in wrestling by Yogeshwar Dutt; and a bronze in women’s … Continue reading LET’S RESOLVE TO MAKE INDIA A GLOBAL SPORTS POWER

AddThis Social Bookmark Button