Month: July 2013

हैदराबाद में ‘ऑपरेशन पोलो’

July 2, 2013

मेरे पिछले दो ब्लॉग मुख्यतया जम्मू एवं कश्मीर और डा. श्यामा प्रसाद मुकर्जी के बारे में थे। जिन्हें देश ने ‘राष्ट्रीय एकीकरण के लिए स्वतंत्र भारत के पहले शहीद‘ के रुप में सराहा। इन दोनों के लिए मुझे वी. शंकर द्वारा लिखित वल्लभभाई पटेल की जीवनी-‘माय रेमिनीसेंसेज ऑफ सरदार पटेल‘ पर काफी आश्रित होना पड़ा।   सरदार पटेल पर राजमोहन गांधी की जीवनी में लिखा है: ”यद्यपि शंकर की सेवाएं बहुमूल्य थीं, परन्तु ज्यादा महत्वपूर्ण भूमिका वपल पनगुन्नी मेनन ने निभाई‘।   सरदार पटेल ने स्वतंत्र भारत के गृहमंत्री के रुप में अपने मंत्रालय में एक ‘स्टेट्स डिपार्टमेंट‘ का गठन किया जिस पर देश की 564 देसी रियासतों को एक करने की जिम्मेदारी सौंपी गई। सरदार पटेल ने वी.पी. मेनन को स्टेट्स डिपार्टमेंट का सचिव नामांकित किया। जब भारत पर ब्रिटिश शासन था तब ये देसी रियासतें देश का लगभग आधा क्षेत्र बनती थीं।   दिसम्बर, 2000 में नई दिल्ली … Continue reading हैदराबाद में ‘ऑपरेशन पोलो’

AddThis Social Bookmark Button